मैखाना

कोई समझाए ये क्या रंग है मैख़ाने का आँख साकी की उठे नाम हो पैमाने का। गर्मी-ए-शमा का अफ़साना सुनाने वालों रक्स देखा नहीं तुमने अभी परवाने का। चश्म-ए-साकी मुझे हर गाम पे याद आती है, रास्ता भूल न जाऊँ कहीं मैख़ाने का। अब तो हर शाम गुज़रती है उसी कूचे में ये नतीजा हुआ […]

Read More मैखाना

लालसा

चेहरा देखने की तलब आज भी रहती है उसे, झरोखों से झाँकते हुऐ आज मैने पाया उसे! नाम लेता है कोई जब भी मेरा उसके आस पास, सामने से दौङकर निकलते मैने पाया उसे!! Pearl

Read More लालसा

आँखें

हर रात ये सहम कर रो जाते हैं, रोते रोते न जाने कब सो जाते हैं! दर्द तो दिल में होता है साहिब, पर ये नैना ही सब कुछ सह जाते हैं!!

Read More आँखें

Missing

कम हो ईंधन तो दीपक भभककर जल उठता है, न हो खिलौने तो बच्चा फफककर रो पङता है, अब अजनबी ही सही लेकिन मेरा यार था वह; दीदार न हो उनका तो ये दिल भी तङप उठता है।।

Read More Missing

Freedom fighter

लङी थी खूब जोरों से वो झाँसी की रानी, पिलाया गोरों को था उसने हर घाट का पानी! जीते जी तो उनको पा सका न कोई भी दुश्मन,, वीरगति को अपनाकर बनी लक्ष्मी मर्दानी।।

Read More Freedom fighter

मेरे श्याम

किसी के कान में हीरा, किसी के नाक में हीरा! हमें हीरे से क्या लेना, हमारे तो श्याम हैं हीरा!! राधे राधे🙏🙏

Read More मेरे श्याम

अलविदा

सोचता हूँ जिन लम्हों को ; हमने एक दूसरे के नाम किया है! शायद वही जिंदगी थी ! भले ही वो ख्यालों में हो , या फिर अनजान ख्वाबो में .. या यूँ ही कभी बातें करते हुए .. या फिर अपने अपने अक्स को ; एक दूजे में देखते हुए हो …. पर कुछ […]

Read More अलविदा